जल्दी ही किसानों को मिलेगी भावान्तर की राशी, सोयाबीन मक्का पर 500 रुपए प्रति क्विंटल

फ्लैट भावांतर भुगतान योजना/कृषक समृद्धि योजना पंजीकृत 15.69 लाख किसानों ने बेचा सोयाबीन और मक्का 

5,565

भोपाल। भावान्तर भुगतान योजना के तहत कमलनाथ सरकार जल्दी ही किसानों के खातों में भावान्तर राशी डालने जा रही है। माना जा रहा है की लोकसभा की चुनावी आचार संहिता लगने के पहले राशी किसानों के बैक खातों में डाल दी जाएगी। 

राज्य शासन द्वारा फ्लैट भावांतर भुगतान योजना/कृषक समृद्धि योजना के अंतर्गत मण्डियों में किसानों को सोयाबीन और मक्का विक्रय करने पर 500 रूपये प्रति क्विंटल बोनस दिया जायेगा। यह योजना 19 जनवरी, 2019 तक पंजीकृत किसानों के लिये प्रभावशील रहेगी। योजना में अभी तक 12 लाख एक हजार किसानों ने 22.47 लाख मीट्रिक टन सोयाबीन और 3 लाख 68 हजार किसानों ने 17.70 लाख मीट्रिक टन मक्का बेचा है। योजना में पंजीकृत किसानों द्वारा उत्पादकता की सीमा तक सोयाबीन तथा मक्का मण्डियों में विक्रय किये जाने पर बोनस राशि प्रदाय किये जाने का प्रावधान है।

जिला कलेक्टर्स को निर्देश दिये गये हैं कि पंजीकृत किसान द्वारा कृषि उपज मण्डी समिति में सोयाबीन और मक्का विक्रय किये जाने के समस्त अभिलेखों का व्यवस्थित संधारण एवं सूक्ष्म परीक्षण किया जाये। इसके बाद ही पोर्टल पर जानकारी अपलोड कराई जाये। योजनांतर्गत पर्यवेक्षण तथा परीक्षण सुनिश्चित करने के बाद ही पात्र किसानों की उपज सीमा तक के विधिपूर्ण विक्रय की राशि की गणना की जाये। तत्पश्चात गणना अनुसार आवश्यक राशि का प्रस्ताव किसान कल्याण तथा कृषि विकास संचालनालय को भेजा जाये।