दो फर्जी पत्रकारों पर प्रकरण दर्ज, कैमरा दिखा कर करते थे ब्लैकमैलिंग, नकली कार्ड दिखाते थे

243

इंदौर। जूस की दूकान में पहले विवाद किया फिर साथियों को बुला कर फर्जी पत्रकार बन ब्लैकमेल किया। थाना एमआईजी पुलिस ने ज्यूस संचालक से खबर छापने की धमकी देकर रूपए मांगने वाले दो फर्जी पत्रकारों पर प्रकरण दर्ज किया है। दोनों के पास से शासन के अधिमान्यता वाले आईडी कार्ड की तरह नकल किए हुए कार्ड भी बरामद हुए हैं।

एमआईजी थाना प्रभारी तहजीब काजी ने बताया की अयूब नामक व्यक्ति अपने एक साथी के साथ ज्यूस पीने के लिए महाकाल ज्यूस सेण्टर पर पहुंचा और ज्यूस ख़राब बता कर विवाद करने लगे। दोनों ने पाने दो साथियों शाकिर और नौशाद को भी मौके पर बुला लिया। फरियादी ज्यूस संचालक राकेश नरवरिया ने बताया की आते ही खुद को अधिमान्य पत्रकार बता कर दोनों ने फोटो और विडियो बनाना शुरू कर दिया। बाद में रुपए की मांग शुरू कर दी और कहा की रुपए नहीं दिए तो खबर लिख देंगे।

फरियादी ने जब पुलिस को बुला लिया तो दोनों युवकों ने शासन के अधिमान्यता वाले कार्ड की नक़ल किये हुए कार्ड दिखाए जिस पर शासन का लोगो भी लगा हुआ था। पुलिस ने शाकिर पिता मोहम्मद ईशाक निवारी खजरानी कांकड़ और नौशाद पिता अब्दुल खान निवासी श्रीनगर कांकड के खिलाफ धारा ४२०, ३८४, ४६८, ४७१ एवं ३४ भादवि के तहत प्रकरण दर्ज किया है।

पुलिस ने दोनों फर्जी पत्रकारों को गिरफ्तार कर लिया है जहाँ पूछताछ में उन्होंने स्वीकार किया है की उन्होंने पैसे देकर ये कार्ड बनवाए हैं। दोनों से पुलिस पूछताछ जारी है।