इंदौर संभागमध्यप्रदेश

दो फर्जी पत्रकारों पर प्रकरण दर्ज, कैमरा दिखा कर करते थे ब्लैकमैलिंग, नकली कार्ड दिखाते थे

शासन के अधिमान्यता कार्ड की नक़ल कर बनाए गए थे प्रेस कार्ड

Story Highlights

  • अधिमान्य पत्रकार बन खबर छापने की धमकी देकर मांग रहे थे रूपए
  •  मध्यप्रदेश के हर शहर में कईयों के पास है इस तरह के फर्जी कार्ड
  • प्रदेश भर में रुपए लेकर बनाए जा रहे है प्रेस कार्ड
  • फर्जी कार्ड से वाहन, टोल टैक्स और ब्लैकमैलिंग का धंधा जारी

go to site इंदौर। जूस की दूकान में पहले विवाद किया फिर साथियों को बुला कर फर्जी पत्रकार बन ब्लैकमेल किया। थाना एमआईजी पुलिस ने ज्यूस संचालक से खबर छापने की धमकी देकर रूपए मांगने वाले दो फर्जी पत्रकारों पर प्रकरण दर्ज किया है। दोनों के पास से शासन के अधिमान्यता वाले आईडी कार्ड की तरह नकल किए हुए कार्ड भी बरामद हुए हैं।

buy Lyrica tablets uk एमआईजी थाना प्रभारी तहजीब काजी ने बताया की अयूब नामक व्यक्ति अपने एक साथी के साथ ज्यूस पीने के लिए महाकाल ज्यूस सेण्टर पर पहुंचा और ज्यूस ख़राब बता कर विवाद करने लगे। दोनों ने पाने दो साथियों शाकिर और नौशाद को भी मौके पर बुला लिया। फरियादी ज्यूस संचालक राकेश नरवरिया ने बताया की आते ही खुद को अधिमान्य पत्रकार बता कर दोनों ने फोटो और विडियो बनाना शुरू कर दिया। बाद में रुपए की मांग शुरू कर दी और कहा की रुपए नहीं दिए तो खबर लिख देंगे।

follow site फरियादी ने जब पुलिस को बुला लिया तो दोनों युवकों ने शासन के अधिमान्यता वाले कार्ड की नक़ल किये हुए कार्ड दिखाए जिस पर शासन का लोगो भी लगा हुआ था। पुलिस ने शाकिर पिता मोहम्मद ईशाक निवारी खजरानी कांकड़ और नौशाद पिता अब्दुल खान निवासी श्रीनगर कांकड के खिलाफ धारा ४२०, ३८४, ४६८, ४७१ एवं ३४ भादवि के तहत प्रकरण दर्ज किया है।

पुलिस ने दोनों फर्जी पत्रकारों को गिरफ्तार कर लिया है जहाँ पूछताछ में उन्होंने स्वीकार किया है की उन्होंने पैसे देकर ये कार्ड बनवाए हैं। दोनों से पुलिस पूछताछ जारी है।

Tags

Related Articles

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker