उज्जैन में सपाक्स और करणी सेना का प्रदर्शन, SC/ST एक्ट के विरोध में निकाली रैली

4

उज्जैन। एससी/एसटी एक्ट के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन तेज होते जा रहे हैं। रविवार को उज्जैन में करणी सेना के बैनर तले हजारों लोग सड़कों पर उतर आए और इस एक्ट के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। प्रदर्शनकारियों ने कई स्थानों पर उग्र प्रदर्शन करते हुए शिवराज सिंह चौहान सरकार के पोस्टर आदि फाड़ दिए। प्रदर्शन उग्र होता देख पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

उज्जैन में रविवार को करणी सेना और सामान्य एवं पिछड़ा वर्ग द्वारा आरक्षण और एससी/एसटी एक्ट के खिलाफ आंदोलन किया गया। प्रदेशभर से दोनों वर्गों के हजारों लोग उज्जैन के नानाखेड़ा स्टेडियम में एकत्र हुए। स्टेडियम से सभी लोग एक रैली के रूप में शहर की सड़कों पर निकले। करणी सैना के कार्यकर्ताओं रैली में प्रदर्शन करते हुए राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। रैली नानाखेड़ा स्टेडियम से शुरू होकर टॉवर चौराहा, चामुंडा चौराहा, दौलतगंज और फाजलपुरा होते हुए चिमनगंज मंडी पहुंची। 

प्रदर्शनकारी आर्थिक आधार पर आरक्षण की मांग कर रहे थे। करणी सेना के लोग भगवा झंडे लिए हुए थे और उन्होंने काले कपड़े पहने हुए थे। सेना ने दावा किया कि उनकी इस रैली में 500 बसें, 5000 कार सहित हजारों मोटरसाइकिल सवारों ने हिस्सा लिया। जब रैली टॉवर चौक पर पहुंची तो सेना के कुछ कार्यकर्ताओं ने टॉवर चौक पर लगे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के  पोस्टर फाड़ दिए। भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस को हल्के बल का इस्तेमाल करना पड़ा। प्रदर्शनकारी बीजेपी के साथ ही कांग्रेस के खिलाफ भी नारेबाजी कर रहे थे।